Kumawat News Portal

लोकसभा : कांग्रेस ने फिर जीता दिया मोदी को,चुनाव केवल नरेंद्र मोदी ने जीता है।

डेस्क : कुमावत न्यूज - 8824931434 24/05/2019 03:20:PM Technology

लोकसभा :  कांग्रेस ने फिर जीता दिया मोदी को,चुनाव केवल नरेंद्र मोदी ने जीता है।

 

अजमेर। 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जीत हासिल की है मोदी को ये जीत कांग्रेस ने बड़ी आसानी से दे दी मोदी की जीत के पीछे कांग्रेस का ही सबसे बड़ा हाथ है या यूं कहें कि राहुल के सलाहकारों का मोदी को जिताने में विशेष योगदान है बात यहां से शुरू करते हैं आग लग रही थी और आग केवल पानी से बुझाई जाती है लेकिन राहुल गांधी के सलाहकारों ने उन्हें आग बुझाने के लिए तेल इस्तेमाल करने की सलाह दे दी जो राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी को सियासत के पंथ से दूर ले जाने के लिए काफी थी कांग्रेस की हार के 2 बड़े कारण पहला जम्मू कश्मीर से धारा 370 और 35ए साथ कांग्रेस किसी प्रकार की छेड़छाड़ नहीं करेगी दूसरा कांग्रेस पार्टी देशद्रोह की धारा हटा देगी ये दोनों ही बातें देश की जनता के बीच में से कांग्रेस को दूर कर देती है वहीं मोदी राष्ट्रवाद की बात करके धारा 370 को कश्मीर से हटाने की बात करके जनता के दिल को जीत लेते हैं और राष्ट्रहित में  हिंदुस्तान की जनता मोदी को पूर्ण बहुमत दे देती है धारा 370 को हटाने की बात 2014 में भी मोदी ने की थी पूर्ण बहुमत की सरकार भी बनाई लेकिन धारा 370 को हटाया नहीं आने वाले 5 वर्षों में धारा 370 का क्या होता है? कहा नहीं जा सकता लेकिन वर्तमान में कांग्रेस को धारा 370 देशद्रोह की धारा हटाने की बात सत्ता से बाहर ले गई वही मोदी ने राष्ट्रवाद और विकास की बात करके पूर्ण बहुमत प्राप्त कर लिया है अकेले मोदी के चेहरे पर एनडीए का पूरा कुनबा 350 सीटो के करीब जीत हासिल कर रहा है यह जीत केवल और केवल अकेले मोदी की है पूरे हिंदुस्तान में बीजेपी और एनडीए के सभी प्रत्याशियों की सीट पर मोदी ने चुनाव लड़ा है और मोदी के नाम पर ही उन्हें वोट मिला है आज स्थिति यह है कि कांग्रेश पार्टी 18 राज्यों में अपना खाता तक नहीं खोल सकी यह कांग्रेस के लिए बहुत ही गंभीर बात है उससे बड़ी मोदी की उपलब्धि यह है कि पिछले 50 वर्षों में कोई सरकार वापस पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आई है वही कांग्रेस सहित उसके घटक दल अन्य  राज्यों के क्षत्रिय दलों के बड़े नेता भी चुनाव हार गए इसका कारण यह रहा कि अन्य दलों के पास चुनाव में कोई खास मुद्दा नहीं था वह एक ही बात करते रहे कि मोदी को हराना है मोदी को तो हराना है लेकिन उसके बाद क्या करेंगे देश को किस दिशा में लेकर जाएंगे इन बातों का उनके पास कोई जवाब नहीं उन्हें केवल सत्ता हासिल करनी थी वहीं मोदी ने कांग्रेस और अन्य क्षेत्रीय दलों की कमजोरियों को अपना हथियार बना लिया मोदी के किसी भी भाषण में कहीं गई बात को दिमाग से ना समझते हुए कांग्रेस और अन्य दलों के नेताओं ने मोदी को कई बार गालियां दे दी इन्हीं गालियों को मोदी ने वोट में तब्दील कर दिया साथ ही मोदी ने जो सरकारी योजनाओं का लाभ देश की जनता को दिया उस लाभ को वह अपने चुनावी भाषणों में और विज्ञापनों के जरिए जनता तक पहुंचाते रहे मोदी ने ग्रामीण वोटों को अपने पक्ष में करने के लिए किसानों को सालाना ₹12000 देने का वादा कर किसानों को अपने पक्ष में वोट डालने को जैसे तैसे राजी कर लिया और ग्रामीण क्षेत्र के वोट भी मोदी की झोली में आ गिरे वहीं मोदी को अपनी जीत का पूरा विश्वास इसलिए था कि विपक्ष के पास प्रधानमंत्री पद के लिए कोई भरोसे लायक चेहरा था ही नहीं ऐसे में मोदी ने स्वयं को जनता के सामने एक मजबूत नेता साबित किया और देश को मजबूत सरकार देने का भरोसा दिलाया देश को विकास और सुरक्षा की गारंटी दी साथी विपक्ष के गठबंधन को महा मिलावटी वंशवाद  की राजनीति करने वाला  बताया साथी अपने भाषणों के जरिए जनता के दिमाग में यह बात बिठाने में भी कामयाब हुए कि यह लोग देश की जनता की सेवा नहीं करेंगे केवल अपने परिवार को आगे बढ़ाएंगे यह कभी भी देश को मजबूत सरकार नहीं दे सकेंगे और इनकी वंशवाद की नीति देश को कभी प्रगति नहीं करने देगी जनता ने मोदी कि इस बात को अपने जेहन में बैठा लिया और इसका का परिणाम चुनाव नतीजों के आंकड़े बता भी रहे हैं मोदी ने देश के सभी राजनीतिक दलों को समझा दिया हैकि अगर इस देश में सत्ता पाना चाहते हो तो देश हित की ही बात करनी होगी अगर आपके पास देश के लिए और देशवासियों के लिए करने के लिए कोई खास विजन नहीं है तो आप का चुनाव लड़कर अपना कीमती समय खराब करना बेकार है कांग्रेस देश की बड़ी राष्ट्रीय पार्टी है जो आज अपने अस्तित्व के लिए खुद ही संघर्ष कर रही है ऐसा क्यों हुआ ? इस पर कांग्रेस पार्टी को गहन चिंतन करने की आवश्यकता है  कांग्रेस को देश में अपना अस्तित्व बचाए रखना है तो उसे सोचना होगा बहुत गंभीरता से सोचना होगा कि कैसे जनता के मन में कांग्रेस के प्रति विश्वास जगाएं जनता के हित के मुद्दों को किस प्रकार सरकार के सामने रखें और जनता के हक के सभी कार्य को विपक्ष में बैठकर पूरा कराएं जनता की बात को मजबूती से रखें और आने वाले चुनावों को गंभीर मुद्दों  पर लड़ें  आने वाले 5 वर्षों में कांग्रेस को देशहित और जनहित की बातें और विशेष मुद्दे उठाने होंगे जिससे भारत की जनता में कांग्रेस के प्रति वापस विश्वास जागृत हो सके अगर कांग्रेस यह करने में नाकाम होती है तो आने वाले 50 साल तक बीजेपी सत्ता में कायम रहेगी।

राजस्थान के 25 प्रत्याशियों की जीत का लेखा-जोखा ।